Karwa Chauth 2022: शुक्र अस्त होने के कारण नवविवाहित नहीं रख पाएंगी करवा चौथ व्रत?

Karwa Chauth 2022 इस साल करवा चौथ पर शुक्र और बृहस्पति अस्त हो रहे हैं

इस दौरान किसी भी तरह के मांगलिक कार्यों पर असर पड़ेगा।

अगर आप भी पहली बार व्रत रख रही है या फिर उद्यापन करने वाली हैं तो जान लें ये बातें

Karwa Chauth 2022: कार्तिक मास के कृष्ण पक्ष की चतुर्थी तिथि को करवा चौथ का व्रत रखा जाता है

 इस दिन महिलाएं पति की लंबी आयु और सुखी वैवाहिक जीवन के लिए निर्जला व्रत रखती हैं

इस साल करवा चौथ काफी खास होने वाला है। क्योंकि इस साल शुक्र अस्त हो रहा है

शास्त्रों के अनुसार शुक्र अस्त होने पर किसी भी तरह के शुभ और मांगलिक कार्य करने की मनाही होती है।

20 नवंबर तक शुक्र अस्त रहेगा।

ऐसे में किसी तरह का मुंडन-छेदन, ग्रह प्रवेश, विवाह आदि कार्य की मनाही होती है।

इसलिए अगर आप पहली बार करवा चौथ का व्रत रख रही हैं, तो इस बातों का खास ख्याल रखें।

इस साल से करवा चौथ व्रत का शुरुआत करने वाली है वह भी इस साल से ही व्रत का आरंभ कर सकती हैं।