Spirulina Benefits, Sources and Side Effects

By | 26th March 2018

spirulina benefits skin, dxn spirulina benefits, what is spirulina, spirulina benefits brain, spirulina plant, spirulina capsules, spirulina reviews, spirulina benefits in Hindi“अगर आपका शरीर स्वस्थ है तो सब कुछ अच्छा लगता है” ये बात तो आपने सुनी ही होगी. लेकिन केवल स्वस्थ शरीर में. इसी बात को अगर हम दूसरे शब्दों में कहें तो कह सकते हैं कि हमें अपने सम्पूर्ण जीवन को स्वस्थ रखने की ज़रुरत नहीं है. बल्कि हमें अपने शरीर को स्वस्थ रखने की ज़रुरत है. अगर शरीर स्वस्थ रहेगा तो प्रत्येक बस्तु अच्छी लगेगी. तो दोस्तो Healthcare की इस कड़ी में आज में आपके सामने एक ऐसा ही Suppliment (आहार पूरक) लेकर आया हूँ. जिसका नाम Spirulina है. आज हम Spirulina Benefits, Sources and Side Effects की बात करेंगे.

Spirulina को Immunity Booster (रोग प्रतिरोधक शक्ति) भी कहा जाता है. यह आपकी रोग क्षमता को बढ़ा देता है, तथा भविष्य में होने वाली बीमारियों से भी बचाता है. Immunity हमारे शरीर में एक अनदेखी ताक़त है जिसे मापा नहीं जा सकता है. जो हमारे शरीर को रोगों से लड़ने में मदद करती है. इसी Immunity को बढ़ाने के लिए बाज़ार में बहुत सारे Chemical (रसायन युक्त) उत्पाद मौजूद हैं. मगर आपके सामने एक बिलकुल आयुर्वेदिक बूटी को लेकर आया हूँ. जिस नाम Spirulina है.

Spirulina क्या है?

Spirulina एक छोटा सा जलीय नील हरित शैवाल की तरह का पौधा होता है. एक Spring के आकर की काई होने के कारण इसका नाम  Spirulina रखा गया. प्रकृति में या शैवाल लगभग 3.5 साल से भी पहले से मौजूद है. और शायद यही वह जलीय पौधा है जिसके कारण ही प्रथ्वी पर ऑक्सीजन का निर्माण संभव हो सका था. हमें Spirulina का धन्यवाद् करना चाहिए कि इसने प्रथ्वी पर ऑक्सीजन का निर्माण किया तभी आज मैं लिख रहा हूँ और आप पढ़ रहे हैं. एक रिपोर्ट के मुताबिक Spirulina को विश्व का सर्वश्रेष्ठ और शक्तिशाली खाद्ध पदार्थ (भोजन) कहा गया है. 1974 में हुए विश्व खाद्ध सम्मलेन में सयुक्त राष्ट्र ने इसे भविष्य का सर्वोत्तम भोजन का श्रोत स्वीकार किया है.

Spirulina के गुण

आज प्रथ्वी पर जो भी खाद्ध पदार्थ उपलब्ध हैं उनमें से कुछ को हम रोज़ाना स्वस्थ रहने के लिए अपने भोजन के रूप में लेते हैं. अगर उन खाद्ध पदार्थों की तुलना Spirulina से करें तो Spirulina Benefits के मामले में उन सब में सब से सर्वश्रेष्ठ भोजन के रूप में उभरकर सामने आता है.

Spitulina की पोषक क्षमता की जिनती तुलना की जाए उतनी ही कम है. चलिए तो हम कुछ मुख्य खाद्ध पदार्थों से इसकी तुलना करके देख लेते हैं.

Spirulina की तुलना एक नज़र में

सबसे पहले प्रोटीन की बात करें तो खाद्ध पदार्थों में सोयाबीन, अंडा और दालों को में सबसे ज़्यादा प्रोटीन पाया जाता है मगर Spirulina में सोयाबीन से भी दो गुना, अंडे से 6 गुना और दालों से 3 गुना ज़्यादा प्रोटीन होता है. अगर हम Iron (लोहा) की बात पर आयें जो की हमारे शरीर की ज़रुरत है. लोहा हमें सबसे ज़्यादा पालक से मिलता है मगर यहाँ भी Spirulina में लोहे की मात्र पालक से लगभग 5-8 गुना ज़्यादा होती है. बीटा कैरोटीन (Beta-Carotene) जिसे विटामिन A भी कहा जाता है. सबसे ज़्यादा गाजर में पाया जाता है. Spirulina में 25 गुना होता है. गाय के दूध को सबसे अच्छा आहार माना जाता है जो की स्वस्थ रहने के लिए सम्पूर्ण आहार है. लेकिन Spirulina Benefits में गाय के दूध से भी 14 गुना आहार पूरक पाया जाता है.

हमारे शरीर को रोज़ाना सुचारू रूप से कार्य करने के लिए 46 पोषक तत्वों की आवश्यकता होती है. जिनमें से 45 प्रकार के पोषक तत्वों की पूर्ती के लिए अकेला Spirulina ही करने का दावा करता है. Spirulina में विटामिन C नहीं पाया जाता है. B-12 के लिए Spirulina को सबसे अच्छा श्रोत माना जाता है.

Spirulina में निम्न पोषक तत्व पाए जाता हैं:-

  • 13 Vitamins
  • 13 Minerals
  • 3 Natural Pigments
  • 4 Natural Phytonutrients
  • 8 Natural Caretenoids
  • 18 Amino Acid
  • B-12 के लिए Spirulina को सबसे अच्छा श्रोत माना जाता है.

अलग अलग समस्याओं में Spirulina Benefits

Spirulna आपके बहुत काम आ सकता है अगर आपको भी इनमें से कोई परेशानी है:-

  • कमज़ोर Immunity
  • कमज़ोर याददाश्त
  • मंद बुद्धि
  • मुहासे
  • नज़र का कमज़ोर होना
  • खुजली
  • थकान
  • दिल की धमनियों से सम्बंधित बीमारियाँ
  • डर्मेटाइटिस (त्वचा शोध)
  • मांसपेशियों का दर्द
  • नींद ना आना
  • पानी की कमी
  • रजोनिवृत्ति के पहले के लक्षण
  • सांस की समस्याएँ
  • अनियमित माहवारी
  • मधुमेह
  • जलन
  • मांसपेशियों में थकान

# NASA ने अन्तरिक्ष यात्रियों के लिए Spirulina को एक आदर्श आहार के रूप में चुना है.

# WHO & सयुक्त राष्ट्र ने बच्चों में कुपोषण को दूर करने के लिए Spirulina को उत्कृष्ट एवं सुरक्षित भोजन के रूप में देने की सलाह दी है.

# खिलाड़ी और ज़्यादा मेहनत का कार्य करने वालों के लिए इससे अधिक उत्तम आहार पूरक और कोई नहीं है.

Spirulina Benefits सुधार क्रियाएँ

# बुखार, नींद ना आना: Spirulina में 68% प्रोटीन और अन्य अच्छे पोष्टिक तत्व होते हैं जो कि शरीर के मेटाबोलिज्म की गर्मी निकालने में सहायता करते हैं और इस प्रकार शरीर का तापमान बढाता है.

# काला या हरी मलमूत्र: Spirulina, मलमूत्र में इकटठी हुई अवशिष्ट सामग्रियों को हटाने में सहायता करता है. कुछ समय के बाद भी यह हरे रंग का हो तो यह Spirulina के हरे रंग के कारण है.

# सुस्त, थके हुए हाथ और पैर: शरीर की एसिडिक स्थिति, लीवर की खराबी, बहुत ज़्यादा थानाक या फिर पहले खायी गयी अत्यधिक दवाइयों के लक्षण.

# चक्कर, आलस, लगातार भूख लगना: हाइपोगिलिसोमिया अथवा अनीमिया से पीड़ित जो व्यक्ति इसको प्रयोग करते हैं. यह उनकी फालतू चर्बी को जलाकर खून में शुगर लेवल को कम करता है.

# उल्टी, दस्त, कब्ज़, हिचकी: एक कमज़ोर पाचन तंत्र, Gastroptosis, Hepatitis, Gastric Hyper-acidity, के लक्षण.

# मुहासे, खाज, लाल धब्बे, अधिक पसीना आना, और पेशाब में दुर्गन्ध: शरीर में Detoxification होने के कारण, ख़राब लीवर अथवा शरीर में एलर्जी के लक्षण.

# वजन का बढ़ना: शरीर की चर्बी के ओक्सिडेशन के बाद कम बज़न वाले व्यक्ति वज़न का बढ़ना महसूस कर सकते हैं. जबकि ज़्यादा वज़न वाले व्यक्ति अपने शारीरिक द्रव में वृद्धि को महसूस कर सकते हैं. ये सब कमज़ोर किडनी के लक्षण हैं.

#अस्थायी अनियमित माहवारी: इसका मतलब है कि Spirulina शरीर हार्मोन असंतुलन की समस्या को ठीक कर रहा है.

# चेहरे और पैर में हल्का एडेमा (शरीर के अंगों में सूजन): कमज़ोर किडनी की लक्षण.

#कोई प्रतिक्रिया नहीं: स्वस्थ शरीर अथवा बीमारियों से बिलकुल मुक्ति.

Spirulina Side Effects

Spirulina जब आप प्रयोग करना शुरू करते हैं. तो आपको कुछ दिक्कतों का सामना करना पड़ सकता है. क्यूँकि ये बहुत तेज़ी से कार्य करता है जिसके लिए शायद आपका शरीर तैयार ना हो.

यदि आपको जानकारी अच्छी लगी हो तो कृपया शेयर ज़रूर करें.

Share it to help others!

One thought on “Spirulina Benefits, Sources and Side Effects

  1. Pingback: Spirulina Benefits, Sources and Side Effects – fapixer

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *